Tuesday, 26 January 2021

KhabarExpress.com : Local To Global News
  6855 view   Add Comment

आजादी के दीवानों की दीर्घा तैयार

बीकानेर मे स्थापित राज्य अभिलेखागार मे हुई स्थापित

बीकानेर, देश के आजादी के आदोंलन में अपना सर्वस्व देश के लिए अर्पण करने वाले प्रदेश के स्वतंत्रता सेनानियो की दीर्घा राजस्थान राज्य अभिलेखागार विभाग बीकानेर में शुरु की गई है। राज्य अभिलेखागार के निदेशक डॉ महेन्द्र खडगावत ने बताय कि यह दीर्घा देश में अपनी तरह की पहली स्वतंत्रता सेनानी को समर्पित दीर्घा है। इस दीर्घा में प्रदेश के 209 स्वतंत्रता सेनानियो के फोटो व उनका जीवन परिचय डिजिटल फ्लैक्स के माध्यम से इस दीर्घा में प्रदर्शित किया गया है। राज्य अभिलेखागार की ओरल हिस्ट्री योजना जो 1952 में प्रारम्भ की गई थी जिसमे  प्रदेश के स्वतंत्रता सेनानियो के संस्मरण अनकी जुबानी में रिकार्ड किये गये। इस योजना में २४६ स्वतंत्रता सेनानियो की ऑडियो टेप के बाद लिखित संस्मरण भी तैयारी सा ऑडियो सी डी  तैयार की गई। ओरल हिस्ट्री व उपलब्ध रिकार्ड के अनुसार प्रदेश के 209 स्वतंत्रता सेनानियो के फोटो व जीवन परिचय इस दीर्घा में प्रदर्शित किये गये है। प्रदेश में एक ऐतिहासिक व अनूठी शुरुआत है। अभिलेखागार विभाग द्वारा तैयार आधुनिक दीर्धा में प्रदशित इन स्वतंत्रता सेनानियो की दीर्घा में प्रवेश करते ही आजादी के दीवानो की शूरवीरता आजादी की दीवानगी स्वत परिलक्षित होने लगती है।


स्वतंत्रता सेनानी हीरा लाल शर्मा के अनुसार राज्य सरकार व विभाग का यह ऐतिहासिक कार्य है। इस स्वतंत्रता सेनानी दीर्घा से आने वाली पीढियो को आजादी के आदोंलन की ऐतिहासिक जानकारी इस दीर्घा के माध्यम से मिलती रहेगी।

अभिलेखागार विभाग द्धारा तैयार स्वतंत्रता सेनानी दीर्घा हालंकि अपने आय में पूर्ण हीनती अपितु ऐतिहासिक भी है। फिर भी कुछ स्वतंत्रता सेनानी जो आजादी में आंदोलन में शहीद हुए और उनके फोटो डिजिटल इस दीर्धा के प्रथम चरण में नही लग पाये है वे द्धितिय चरण में लगाई जाएगी ऐसी उम्मीद है। निदेशक खडगावत ने बताया कि यह दीर्घा देशी-विदेशी पर्यटकों के साथ ही  आम वर्ग के लिए आकर्षण का केन्द्र की बनती जा रही है।

Tag

Share this news

Post your comment