Sunday, 25 June 2017

हवेलियों के सरंक्षण के लिए हेरिटेज वाॅक का आयोजन

शहरवासियों के साथ बड़ौदा डिजायन एकेडमी के 100 छात्रों ने भी लिया हिस्सा

हवेलियों के सरंक्षण के लिए हेरिटेज वाॅक का आयोजन

बीकानेर, बीकानेर की सांस्कृतिक एवं सामाजिक संस्था ‘लोकायन’ द्वारा बीकानेर शहर की पुरातत्व महत्व की ईमारतों एवं हवेलियों को संरक्षित करने के उद्देश्य से आज सुबह 7ः30 बजे भांडाशाह जैन मंदिर एवं लक्ष्मीनाथजी मंदिर से ‘हेरिटेज वाॅक’ का आयोजन किया गया।  
 इस ‘हेरिटेज वाॅक’ का उद्घाटन बीकानेर नगर निगम महापौर नारायण चैपड़ा, उपमहापौर अशोक आचार्य, लोकायन के संस्थापक एवं इतिहासविद कृष्णचंद्र शर्मा, अहमदाबाद के हेरिटेज विशेषज्ञ देबाशीश नायक एवं कोलकाता के व्यावसायी प्रदीप चैपड़ा एवं बड़ौदा के हेरिटेज विशेषज्ञ निरव हीरपारा ने फीता काटकर किया। शहर के पुरातत्व महत्वों वाले रास्तों चूड़ी बाजार, बड़ा बाजार, सुपारी बाजार, चाय पट्टी तथा आसानीयों के चैक से गुजरते हुए रामपुरिया हवेली तक पंहुची। इस हेरिटेज वाॅक में बीकानेर के नागरिकों के अलावा बड़ौदा डिजायन एकेडमी से बीकानेर के हेरिटेज पर सर्वेक्षण करने आये लगभग 100 छात्र-छात्राएं भी मौजूद थे। 

लोकायन के सचिव गोपाल सिंह चैहान ने बताया कि हेरिटेज वाॅक के उद्घाटन अवसर महापौर नारायण चैपड़ा ने छात्रों का बीकानेर में स्वागत करते हुए कहा कि बीकानेर का हेरिटेज विश्व स्तरीय है लेकिन इसे संरक्षित और सुरक्षित करने का प्रयास भी हमें करना होगा। उन्होंने बीकानेर के हेरिटेज संरक्षण को लेकर नगर निगम बीकानेर के प्रयासों को रेखांकित करते हुए बताया कि बीकानेर नगर निगम में शीघ्र ही हेरिटेज सेल की स्थापना की जायेगी जिसके तहत निगम बीकानेर के स्मारकों एवं हवेलियों के रख रखाव के साथ साथ नियमित हेरिटेज वाॅक का आयोजन भी करेगा।

उप महापौर एवं बीकानेर हेरिटेज संरक्षण समिति के अध्यक्ष अशोक आचार्य ने अपने उद्बोधन में कहा कि समिति शीघ्र ही शहर की एतिहासिक चारदिवारी, पुरातात्विक महत्व के दरवाजों तथा अन्य ऐतिहासिक स्थलों का सर्वे करवाकर उसके सरंक्षण हेतु प्रयास करेगी। 

लोकायन संस्थापक कृष्ण चंद्र शर्मा ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि लोकायन के निरंतर प्रयासों से आज बीकानेर का हेरिटेज अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त कर चुका है और लोकायन भविष्य में भी बीकानेर के हेरिटेज को बचाने के लिए अपना अभियान जारी रखेगा। 


इस अवसर पर बीकानेर के युवा चित्रकार मोना सरदार डूडी, रवि शर्मा, कमल शर्मा, हवेली मालिक राजू मोहता, सम्पत डागा, कनक चैपड़ा सहित बीकानेर के अनेक हेरिटेज प्रशंसक उपस्थित थे।
 

Lokayan   Heritage Building   Heritage Walk   Baroda Desing Acadmy   Deboshish Naayak