Tuesday, 01 December 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  4353 view   Add Comment

निर्मल ग्राम पुरस्कार 2010 में श्रीगंगानगर जिला प्रथम

श्रीगंगानगर निर्मल ग्राम पुरस्कार 2010 के लिए राज्य की 502ग्राम पंचायतों ने ऑन लाईन डाटा एंट्री पूर्ण कर आवेदन किया है। इनमें से 101 पंचायतों के आवेदन के साथ श्रीगंगानगर जिला प्रथम स्थान पर है।
 श्रीगंगानगर के जिला कलक्टर, आशुतोष ए टी पेडणेकर ने बताया कि भारत सरकार के ग्रामीण विकास विभाग और पेयजल विभाग के निर्देशानुसार निर्मल ग्राम पुरस्कार 2010 के लिए केवल वे ग्राम पंचायतें आवेदन कर सकती थी, जिनकी बीपीएल और एपीएल व्यैक्तिक शौचालय, शाला स्वच्छता इकाई, आंगनबाडी बाल मित्र शौचालय एवं सामुदायिक स्वच्छता परिसर की शत प्रतिशत नामवाईज प्रगति ऑनलाईन हो। इसके लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2010  तय की गई थी। नियत तिथि तक 502 आवेदनों के साथ श्रीगंगानगर जिला प्रथम स्थान पर है। इसके बाद 48 पंचायतों के आवेदन के साथ अलवर, बीकानेर और झुंझुनू जिला संयुक्त दूसरे और 46 पंचायतों के आवेदन के साथ भीलवाडा तीसरे स्थान पर रहा है। जिले की 101 पंचायतों में से अनूपगढ की 29, श्रीगंगानगर की 9, श्रीकरणपुर की 20  पदमपुर की 18, रायसिंहनगर की 9, सादुलशहर की 11 तथा सूरतगढ की 5 पंचायतें शामिल हैं।जिला कलक्टर ने बताया कि सम्पूर्ण स्वच्छता अभियान से संबंधित सभी मापदण्ड पूरे करने वाले मकान के बाहर एक पट्टिका लगाई जाएगी जिस पर ‘निर्मल घर’ अंकित होगा। जिला कलक्टर ने बताया कि गत वर्ष भी राज्य में चयनित हुई पंचायतों में से 45 प्रतिशत पंचायतों के निर्मल ग्राम पुरस्कार हेतु चयनित होने के साथ जिला प्रथम स्थान पर रहा था।

 

Tag

Share this news

Post your comment