Saturday, 23 January 2021

KhabarExpress.com : Local To Global News
  1863 view   Add Comment

शिक्षाविद् मेहता के सृजन को पुनःप्रकाशित करने का प्रयास

१९४२ में प्रकाशित भूगोल पुस्तक को भी मिलेगा नया आकार

डूंगरपुर ६ अक्टूबर/ जिले के सृजनधर्मा शिक्षक व कवि स्वर्गीय शंभूराम मेहता के प्रकाशित व हस्तलिखित साहित्य को पुनः प्रकाशित करने का प्रयास इन दिनों किया जा रहा है और अगले कुछ ही दिनों में यह साहित्य जिले भर के विद्यालयों के पुस्तकालय में विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध हो जाएगा। 
मेहता के साहित्य के प्रकाशक व श्री किशनलाल गर्ग उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाचार्य प्रेमांशुराम मेहता ने बताया कि दिवंगत शंभूराम के साहित्यामृत स विद्यार्थियों को लाभान्वित करने के उद्देश्य से  इस साहित्य को पुनःप्रकाशित करने का प्रयास किया जा रहा है। योजना के तहत मेहता द्वारा रियासतकालीन विद्यालयों की दूसरी कक्षा के लिए लिखित भूगोल पुस्तक का पुनः प्रकाशन किया जा रहा है। इस पुस्तक में डूंगरपुर के इतिहास व भूगोल संबंधी जानकारी प्रदान की गई है।
उन्होंने बताया कि इसके अलावा राजकुमारी सुशीला के विवाह के अवसर पर प्रकाशित पद्य संकलन ’सुशीला विवाह महोत्सव‘ तथा महारावल लक्ष्मणसिंह के जन्मदिवस पर प्रकाशित पत्रों को भी पुनः प्रकाशित किया जा रहा है। इसके अलावा मेहता द्वारा हस्तलिखित पुस्तक ग्राम शिशु संगीत को भी विद्यार्थियों के लिए मुदि्रत करने का प्रयास किया जा रहा है। इसमें सरल भाषा में विद्यार्थियों के लिए उपयोगी गीतों का संग्रह है।

Share this news

Post your comment