Tuesday, 01 December 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  3075 view   Add Comment

राजस्थान में अक्षय उर्जा के अक्षत भंडार - डाँ. जितेन्द्र सिंह

निवेशक प्रदेश में निवेश के लिए आगे आएं

नई दिल्ली,  राजस्थान के उर्जा मंत्री डाँ. जितेन्द्र सिंह ने देशी विदेशी निवेशकों से राजस्थान में निवेश की अपील करते हुए बताया है कि राजस्थान में अक्षय उर्जा के अक्षत भंडार उपलब्ध है। विशेषकर प्रदेश में सौर, बायोमास एवं पवन उर्जा से लाखों किलोवॉट विद्युत उत्पादन की क्षमता निहित है।

डाँ. जितेन्द्र सिंह ने बुधवार को दिल्ली के निकट ग्रेटर नोएडा में आयोजित तीन दिवसीय दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय अक्षय उर्जा सम्मेलन में देश विदेश से आए प्रतिनिधियों से चर्चा कर रहे थे। इस सम्मेलन का उद्घाटन मंगलवार को सांय नई दिल्ली के विज्ञान भवन में राष्ट्रपति प्रतिभा देवीसिंह पाटिल ने किया था।

डाँ. सिंह ने बताया कि प्रदेश में विशेषकर पश्चिम राजस्थान में गैस एवं तेल के भंडारों के साथ ही अक्षय उर्जा के विकास की असीम संभावनाएं है। उन्होंने बताया कि राजस्थान सरकार अक्षय उर्जा के प्रोत्साहन के लिए पूरी तरह कटिबद्ध होकर कार्य कर रही है।

डाँ. सिंह ने बताया कि राजस्थान के मुख्यमंत्राी अशोक गहलोत ने उर्जा के विकास के क्षेत्र को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए प्रदेश की वार्षिक योजना एवं बजट से इसके लिए सबसे अधिक धनराशि का प्रावधान रखा है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने अक्षय उर्जा स्त्रातों और बॉयोमास से विद्युत उत्पादन को प्रोत्साहन के लिए नीति जारी की है और सौर उर्जा एवं पवन उर्जा से विद्युत उत्पादन के लिए शीघ्र ही प्रोत्साहन नीति जारी की जावेगी।

 

Tag

Share this news

Post your comment