Tuesday, 01 December 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  987 view   Add Comment

एसडीएम के साथ स्कूली छात्रों की धक्कामुक्की

जिला कांगड़ा के ज्वालामुखी की घटना

ज्वालामुखी,02 सितंबर  (विजयेन्दर शर्मा ) ।   जिला कांगड़ा के ज्वालामुखी  में एसडीएम आफिस के पास उस समय हंगामा खड़ा हो गया, जब स्थानीय एसडीएम संजीव कुमार  ने पास ही वीरान भवन में  ज्वालामुखी स्कूल से बंक मार कर आये स्कूली छात्रों को धर दबोचा।  जिससे मची अफरा तफरी में भागते एक स्कूली छात्र ने कथित तौर पर एसडीएम को धक्का दे दिया।  अगर एसडीएम न संभलते तो बड़ी दुर्घटना हो जाती।  एसडीएम गिरते गिरते बचे।  दरअसल करीब साढ़े गयारह बजे स्कूल में तीसरा पिरियड चल रहा था, तो एसडीएम आफिस में  स्थानीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला के स्कूली छात्र यहां मौज मना रहे थे।  इस बीच किसी से एसडीएम को पता चला कि पास ही के भवन में बंक मार कर स्कूली छात्र छिपे हैं।  उन्होंने भी दबिश दी तो वहां हंगामा खड़ा हो गया।
 
बताया जाता है कि  यहां तीन दर्जन छात्र छिपे थे।  कुछ छात्र मौका से भागे , लेकिन एक छात्र ने एसडीएम को धक्का दे दिया।  इस सबकी खबर फैली तो लोग जमा हो गये।   बताया जा रहा है कि  आरोपी छात्र स्थानीय स्कूल का ही छात्र है। व एसडीएम ने पुलिस को उसका हुलिया बता दिया है।  वारदात के तुरंत बाद  पुलिस ने एसएचओ एसएस चंदेल की अगुवाई में स्कूल में दबिश दे दी।  देखते ही देखते स्कूल पुलिस छावनी में तबदील हो गया।  व छात्रों की धरपकड़ शुरू हो गई।  पुलिस ने हाजिरी रजिस्टर खंगाला तो कई छात्र गायब थे। उसके बाद पुलिस ने छात्रों ने घर घर जाकर तलाशा व कई छात्रों को वापिस स्कूल लाया गया।  जिससे  स्कूल में भी पढ़ाई पर भी पूरा दिन विपरित असर पड़ा।  तमाम घटना से स्कूल प्रशासन को खासी फजीहत का सामना करना पड़ा।  
 
ज्वालामुखी स्कूल में पिछले अरसे से देखने को मिल रहा था कि स्कूली छात्र स्कूल में नहीं स्कूल से बाहर ही रहते थे।  समाचार लिखे जाने तक आरोपी छात्र की तालाश जारी है।  पुलिस ने उसकी तालाश में कई जगह दबिश दी। पुलिस ने स्कूल में ही डेरा डाला है।  स्थानीय थाना में अभी तक मामला दरज नहीं हुआ है। स्कूल प्रिङ्क्षसपल बी एस अटवाल  भी अपने साथियों के साथ घटना पर मंथन कर रहे हैं।  वहीं मामले को सुलटाने के भी प्रयास जारी हैं। 

Tag

Share this news

Post your comment