Thursday, 26 November 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  4650 view   Add Comment

प्राचार्य के पक्ष में उतरे ईसीबी के छात्र

विद्यार्थियों ने बैठक करते हुए डॉ व्यास के खिलाफ बने माहौल की भर्त्सना की।

 बीकानेर, ईसीबी के विद्यार्थी प्राचार्य डॉ एच पी व्यास के पक्ष में उतर गए हैं। विद्यार्थियों का मानना है कि डॉ व्यास के प्राचार्य बनने के बाद कॉलेज की छवि सुधरी है। शनिवार को विद्यार्थियों ने बैठक करते हुए डॉ व्यास के खिलाफ बने माहौल की भर्त्सना की।

कॉलेज कैम्पस में आयोजित बैठक में कपिल जांगिड़, मनोज खींचड़, अभिषेक फौजदार, गुरूचरण शर्मा, मधुसूदन जांगिड़, सोनू खण्डेलवाल, अजित धालीवाल, मनीष सैनी, भारतेंदु श्रीमाली, शैलेन्द्र आचार्य, सुनील, गजेन्द्र, शक्ति सिंह चौहान और अजहरूद्दीन सहित अनेक विद्यार्थियों ने भाग लिया। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय से कॉलेज का शैक्षणिक ढर्रा बिगड़ गया था। नियमित कक्षाएं, कार्यशालाएं और तकनीक प्रशिक्षण आदि आवश्यक गतिविधियां डांवाडोल होने से विद्यार्थियों की स्थिति बदत्तर हो गई थीं। उनका मानना है कि डॉ व्यास के प्राचार्य बनने के बाद कॉलेज का रंग-रूप बदल गया है। समूचे कॉलेज के अनुशासन का स्तर सुधरा है। परिसर की साफ-सफाई भी पहले से बेहतर हो गई है। कक्षाएं नियमित रूप से लग रही हैं। तकनीकी ज्ञान के लिए कार्यशालाएं और प्रशिक्षण आदि शुरू हो गए हैं। गत दिनों कॉलेज में क्लाउंड कम्प्यूटिंग, एंड्रोयड और सीसीएनसी जैसी तकनीकों की कार्यशालाएं आयोजित हुई हैं, जो विद्यार्थियों के लिए अत्यंत लाभप्रद हैं।
       उन्होंने कहा कि कॉलेज के लिए विद्यार्थी हित सर्वोपरि हैं। वर्तमान में ईसीबी का माहौल विद्यार्थियों के लिए बेहतर है। ऐसे में प्राचार्य के विरूद्ध वर्तमान में चल रही गतिविधियों का उन्होंने पुरजोर विरोध किया है। उन्होंने ईसीबी की व्यवस्थाओं मे ंऔर अधिक सुधार के लिए डॉ व्यास को लम्बे समय तक कॉलेज प्राचार्य बनाए रखने की मांग की है। उन्होंने बताया कि इसके लिए वे राज्य सरकार और जिला प्रशासन से आग्रह भी करेंगे।

 

Share this news

Post your comment