Tuesday, 01 December 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  3468 view   Add Comment

राज्य के सभी प्राथमिक संस्कृत विद्यालय होगें अब उच्च प्राथमिक स्तर केः घनश्याम तिवाडी

संस्कृत शिक्षा के विकास को ध्यान में रखते हुए ही राज्य सरकार ने संस्कृत शिक्षा के लिए पृथक बजट हैड रखते हुए पहली बार १०० करोड बजट का विशेष प्रावधान किया है।

खबरएक्सप्रेस ७ नवम्बर। शिक्षा मंत्री घनश्याम तिवाडी ने आज आदेश जारी करते हुए बताया कि संस्कृत शिक्षा के सभी प्राथमिक विद्यालयों को उच्च प्राथमिक विद्यालयों में क्रमोन्नत करने का निर्णय ले लिया गया है। इस महत्वपूर्ण निर्णय से संस्कृत शिक्षा के अंतर्गत प्रदेश में अब सभी कक्षा एक से पांच तक के विद्यालय आठवीं तक के हो जाएंगे।
शिक्षा मंत्री घनश्याम तिवाडी ने बताया कि इससे संस्कृत शिक्षा के विकास को प्रदेश में प्रभावी रूप में गति दी जा सकेगी। उन्होने बताया कि संस्कृत शिक्षा के विकास को ध्यान में रखते हुए ही राज्य सरकार ने संस्कृत शिक्षा के लिए पृथक बजट हैड रखते हुए पहली बार १०० करोड बजट का विशेष प्रावधान किया है।
 उल्लेखनीय है कि तिवाडी के निर्देश पर ही कुछ समय पूर्व प्रदेश में संस्कृत को संस्कृत माध्यम से पढाने का निर्णय लिया गया था। इसकी पूरे देश मे सराहना कि गयी। तिवाडी की पहल पर ही संस्कृत विश्वविद्यालय मे विभिन्न शैक्षणिक एवं अशैक्षणिक पदों पर भी नियुक्तियाँ का मार्ग प्रशस्त करने हेतु विधान मे संशोधन की पहल कुछ समय पूर्व ही की गयी थी। इसी से विश्वविद्यालय में विभिन्न पदों को भरने की कार्यवाही की जा सकी।
सस्कृत शिक्षा के अंतर्गत सभी प्राथमिक विद्यालयों को उच्च प्राथमिक विद्यालयों मे क्रमोन्नत करने के राज्य सरकार के निर्णय से ऐसा माना जा रहा है कि संस्कृत में उच्च प्राथमिक स्तर पर नामांकन ही नही बढेगा बल्कि संस्कृत के शिक्षा के प्रति वातावरण बनाने का उद्देश्य भी पूरा हो सकेगा।

Share this news

Post your comment