Friday, 04 December 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  6285 view   Add Comment

बेणेश्वर मेले मे उमडी भीड

वनवासियों का महाकुंभः बेणेश्वरधाम मेला 2011 चौथा दिन

डूंगरपुर, बेणेश्वर मेले के मुख्य मेले की पूर्व संध्या पर मेलार्थियों का जमावडा बना रहा। मेले में बडी सं या में उमडे मेलार्थियों ने मेला बाजार से अपनी जरूरत की सामग्री की खरीदारी की।


काईकिंग का आकर्षण बना रहाः
मेले में बडी संख्या में युवाओं ने नेचरट्रेल्स कंपनी की ओर से मुहैया करवाई गई काईकिंग बोटिंग का लुत्फ उठाया। आज बडी संख्या में बच्चे भी यहां पहुंचे और पानी की लहरों पर मौजमस्ती की। काइकिं ग संचालक गजेन्द्र सोनी के निर्देशन में युवाओं ने बेणेश्वरधाम परिसर में एकत्र पानी में इस रोमांचक खेल का लुत्फ उठाया। इस मौके पर नेचर ट्रेल्स कंपनी के निदेशक एच के दिवेकर भी मौजूद थे। उन्होंने इस अंचल को इस प्रकार के वॉटर स्पोर्टस के अनुकूल बताया और कहा कि कंपनी इस अंचल के नैसर्गिंक सौन्दर्य को देशभर में प्रचारित प्रसारित करेगी।

विदेशी तोता बता रहा भारतीयों का भविष्यः
किसी समय में स्थानीय तोतों के सहारे भविष्य बताने वाले पक्षी भविष्यवेत्ता इन दिनों विदेशी तोतों के सहारे मेले में भविष्य बताते नजर आ रहे हैं। मेले में मध्यप्रदेश से आए सोहनराम ने बताया कि वन्यजीवों के माध्यम से खेल दिखाने पर लगे प्रतिबंध के बाद वे विदेशी पालतू तोते बजरी के माध्यम से भविष्य बता रहे हैं।

पतंग के सहारे होगी बेणेश्वर की फोटोग्राफीः
इसे बेणेश्वर मेले के इतिहास का स्वर्णिम अध्याय ही माना जाएगा कि पहली बार पतंग के सहारे बेणेश्वरधाम की फोटोग्राफी की जाएगी। इसके लिए भारत के यातनाम वाईल्ड लाईफ व नेचर फोटोग्राफर और फिल्ममेकर राजेश बेदी बेणेश्वरधाम पहुंचे हैं और शुक्रवार को मुख्य मेले में उमडने वाली जनमेदिनी के साथ टापू के नैसर्गिक सौन्दर्य की काईट फोटोग्राफी करगे। बेदी ने बताया कि बेणेश्वरधाम की महत्ता और नैसर्गिक सौन्दर्य को देखते हुए इस प्रकार की फोटोग्राफी के लिए विशेष व्यवस्था की जा रही है और इसी श्रृंखला में वे शनिवार को डूंगरपुर शहर और उदयविलास पैलेस की भी काईट फोटोग्राफी करेंगे।

Tag

Share this news

Post your comment