Friday, 04 December 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  6813 view   Add Comment

आँवली ग्यारस पर मोटागांव में लगा मेला

आमली ग्यारस पर जिले के मोटागांव में गुडी रणछोड मंदिर परिसर में भव्य मेला लगा। यह मेला पसंदीदा जीवन साथी प्राप्त करने के उद्देश्य से महत्वपूर्ण माना जाता है

बांसवाडा,  आमली ग्यारस पर जिले के मोटागांव में गुडी रणछोड मंदिर परिसर में भव्य मेला लगा। यह मेला पसंदीदा जीवन साथी प्राप्त करने के उद्देश्य से महत्वपूर्ण माना जाता है। इस मेले में कुंवारी कन्याएं अपनी कामनाएं लेकर आती हैं और आँवले के वृक्ष की परिक्रमा करते हुए मन्नतें मांगती है जब उनकी मन्नत पुरी हो जाती है तो वे आने वाली आमली ग्यारस पुष्प श्रीफल एवं अन्य सामग्री लेकर इस आंवले के वृक्ष को अर्पित कर अपनी मन्नते पुरी करती है। एक तरफ जहां कुवारी कन्याएं इच्छित वर के लिए कामनाएं करती है तो वहीं दूसरी तरफ कृषक वर्ग वर्ष भर घर में धन धान्य की समृद्धि के लिए गुडी रणछोड मंदिर में अपनी उपज का पहला भाग चढाते है। ऐसा माना जाता है कि मंदिर की बालियां चढाने से फसल प्राकृतिक आपदाओं से बच जाती है। वहीं वर्ष भर घर धन्य धान परिपूर्ण रहता है। इस मेले में ग्रामीण महिलाएं बडी मात्रा में खरीदारी भी करती है। मेले के दौरान हाथों पर गुदाई, आर्टीफिशयल गहनों की खरीददारी एवं दैनिक उपयोग की सामग्री भी खरीदती है। दो दिन तक चलने वाले इस मेले की रौनक देखते ही बनती हैं। इस मेले के दौरान बडी सं या में विभिन्न प्रजातियों के पक्षी मंदिर परिसर में आते है। ग्रामीण अंचल से आने वाले लोग एक तरफ जहां धान ईश्वर को अर्पित करते है वहीं बाद में वे इन पक्षियों को भी यह धान अर्पित करते है। कुल जमा यह मेला श्रद्धा, विश्वास के साथ ही जीव दया और मानव सेवा का संदेश देता न*ार आता है।  - भंवर गर्ग

Tag

Share this news

Post your comment