Wednesday, 25 November 2020

KhabarExpress.com : Local To Global News
  2721 view   Add Comment

फारुख अब्दुल्ला पर देशद्रोह का मुकद्दमे की मांग

पीओके पर बयान हिमालय परिवार ने जाहिर किया विरोध

बीकानेर 28 नवम्बर, हिमालय परिवार ने जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूख अब्दुल्ला द्वारा अधिकृत कश्मीर को पाकिस्तान का हिस्सा बताये जाने वाले बयान की कड़े शब्दों में निन्दा की है।
जयनारायण व्यास काॅलोनी में आयोजित बैठक में हिमालय परिवार, राजस्थान की बीकानेर इकाई ने निन्दा प्रस्ताव पारित करते हुए भारत सरकार से कार्यवाही करने की मांग करते हुए देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। इस सन्दर्भ में भारत के राष्ट्रपति को पत्र लिखा जायेगा।
इस अवसर पर हिमालय परिवार राजस्थान प्राप्त के महामंत्री अखिलेश प्रताप सिंह ने बताया कि 1994 में देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री नरसिम्हाराव के नेतृत्व में भारतीय संसद ने 22 फरवरी 1994 में पाक अधिकृत कश्मीर के सन्दर्भ में एक प्रस्ताव पारित किया था जिसमें देश की सर्वोच्च संस्था भारतीय संसद ने कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बताते हुए पाकिस्तान द्वारा अधिकृत कश्मीर से एक-एक इंच भूमि को मुक्त कराये जाने का संकल्प व्यक्त किया है। संकल्प में यह भी कहा गया है कि भारतीय सैनिकों के त्याग और बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने दिया जायेगा। ऐसे में फारूख अब्दुल्ला का यह बयान भारतीय संसद की भावना के विपरीत है।
इस अवसर पर हिमालय परिवार बीकानेर प्रान्त के उपाध्यक्ष विजय धमीजा ने कहा कि फारूख अब्दुल्ला का बयान गैर जिम्मेदाराना, राष्ट्र विरोधी एवं भारतीय सेना का मनोबल गिराने वाला है। हिमालय परिवार बीकानेर जिले के महामंत्री अविनाश जोशी ने इस अवसर पर कहा कि जब पाक अधिकृत कश्मीर में रहने वाले नागरिक खुद पाकिस्तान सरकार और सेना के अत्याचार और दमन से पीडि़त हैं एवं भारत में विलय के पक्षधर हैं ऐसे में पूर्व मुख्यमंत्री का बयान पूर्णतयः भारत विरोधी एवं दुश्मन परस्त है। बैठक में प्रदीप रावत, भगवान सिंह मेड़तिया, उम्मेदसिंह राजपुरोहित पार्षद, संजय गुप्ता, मधुरिमा सिंह, विवेक मित्तल, सीमा सिंह, विवेक आहूजा, विजय भटनागर आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

इस सम्बन्ध मे अधिक जानकारी के लिए महामंत्री  अखिलेश प्रताप सिंह से मोबाइल ने 9414136874 पर बात की जा सकती है।

Tag

Share this news

Post your comment