Monday, 18 January 2021

KhabarExpress.com : Local To Global News
  2721 view   Add Comment

जिला शिक्षा अधिकारी को चार्जशीट

सैक्टर अधिकारी निर्धारित मापदण्डों के अनुसार सरकारी कार्यालयों का निरीक्षण

बीकानेर। जिला कलक्टर आरती डोगरा ने कहा कि सभी सैक्टर अधिकारी निर्धारित मापदण्डों के अनुसार सरकारी कार्यालयों का निरीक्षण करें तथा इसकी पालना एवं निरीक्षण रिपोर्ट समय पर उपलब्ध करवाएं। रिपोर्ट की ऑनलाईन फीडिंग प्रत्येक माह की पांच तारीख से पूर्व कर दी जाए। निरीक्षण रिपोर्ट न देने के कारण उन्होंने जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक) को चार्ज शीट जारी करने के निर्देश दिए। डोगरा गुरूवार को कलक्ट्रेट सभागार में सै?टर अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रही थीं। उन्होंने कहा कि सैक्टर अधिकारियों द्वारा किए जाने वाले कार्योंं की नियमित समीक्षा मुख्य सचिव द्वारा की जाती है। इस कारण इसे गंभीरता से लिया जाए। उन्होंने कहा कि जुलाई और अगस्त के दौरान सैक्टर अधिकारी स्कूलों के पास स्थित आंगनबाड़ी केन्द्रों का निरीक्षण अनिवार्य रूप से करें। इनमें पहली और दूसरे कक्षा के नामांकन का मिलान करें। इस दौरान संबंधित ग्राम सेवक, पटवारी और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को भी बुलाया जाए। प्रत्येक कक्षा में पाठ्युपस्तकों के वितरण की स्थिति का जायजा लें। स्टॉक रजिस्टर तथा रिकॉर्ड चैक कर इसकी सूचना पृथक से तैयार की जाए। साथ ही मिड डे मील के लिए राशन की उपलब्धता की जांच करने के निर्देश उन्होंने दिए। स्कूलों में शौचालयों की स्थिति जांच करें तथा यह सुनिश्चित करें कि कोई शौचालय बंद अथवा ब्लॉक न रहे। जिला कलक्टर ने कहा कि दूसरी बार निरीक्षण के दौरान यदि किसी सरकारी कार्यालय में कोई अनियमितता पाई जाती है तो इसका रिकॉर्ड अलग से संधारित किया जाए तथा जिला प्रशासन को इसकी सूचना दी जाए। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर ब्लड प्रेशर, हीमोग्लोबीन जांच तथा वेट मशीनें चालू स्थिति में है या नहीं, इसकी जानकारी उपलब्ध करवाई जाए। प्रत्येक स्वास्थ्य केन्द्र पर इमरजेंसी सेवा 104 के नंबर, वाहन चालक एवं परिचालक के मोबाइल नंबर अनिवार्य रूप से अंकित किए गए हों। नि:शुल्क दवा योजना के तहत 30 प्रकार की दवाईयों की उपलब्धता की रेंडमली जांच करें तथा इसकी रिपोर्ट भी दें। डोगरा ने कहा कि प्रत्येक भारत निर्माण राजीव गांधी सेवा केन्द्र पर लोक सेवा गारण्टी अधिनियम और सुनवाई का अधिकार अधिनियम के प्रार्थना-पत्र लेने की व्यवस्था की गई है। इसके तहत रोजगार सहायक को प्रतिदिन प्रात: 10 से 12 बजे तक आईटी सेंटर्स में उपस्थित रहने तथा इनके प्रार्थना-पत्र लेने के लिए निर्देशित किया गया है। निरीक्षण के दौरान प्रत्येक सैक्टर ऑफिसर देखें कि मौके पर रोजगार सहायक मौजूद है या नहीं। साथ ही उनके पास एंट्री रजिस्टर तथा बुकलेट हो, यह भी देखा जाए। 
जिला शिक्षा अधिकारी को चार्जशीट- जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक) द्वारा निरीक्षण रिपोर्ट उपलब्ध नहीं करवाई गई। इसे गंभीरता से लेते हुए जिला कलक्टर ने चार्जशीट जारी करने के निर्देश दिए। जून माह में जिले में नियक्त 55 सैक्टर अधिकारियों द्वारा 305 कार्यालयों का निरीक्षण किया गया। इनमें उचित मूल्य की 89 दुकानें, 82 स्वास्थ्य केन्द्र तथा 134 आंगनबाड़ी केन्द्र सम्मिलित हैं। बैठक में उप निदेशक (स्थानीय निकाय) भवानी सिंह शेखावत, जिला रसद अधिकारी नरेन्द्र सिंह पुरोहित, सहायक कलक्टर रण सिंह, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक आर के सेठिया सहित अन्य सक्टर अधिकारी मौजूद थे।
 
 

 

Share this news

Post your comment