Tuesday, 28 September 2021

KhabarExpress.com : Local To Global News
  2478 view   Add Comment

नहीं तो फिर भुगतेगी पाटी...

मोरदिया ने टटोली नब्ज

बीकानेर। विधानसभा चुनाव के नजदीक आने के साथ ही राजनैतिक पार्टियों ने प्रत्याशी चयन को लेकर कशमकश शुरू हो गई है। जिले की सातों सीटों पर चयन प्रक्रिया में जिताऊ और टिकाऊ उम्मीदवार को  प्राथमिकता देने के उदे्श्य को लेकर शनिवार को राजस्थान आवासन मंडल अध्यक्ष परशराम मोरदिया ने सर्किट हाउस में कांगे्रसजनों की नब्ज टटोली। मोरदिया ने टिकट के लिये आवेदन करने वालों से जीत के आधार को लेकर सभी प्रकार के समीकरणों पर विस्तृत चर्चा की। वही संभावित प्रत्याशियों के समर्थकों ने भी मोरदिया के समक्ष संबंधित प्रत्याशी को उम्मीदवार बनाने के दावे पेश किये। इससे पूर्व कांग्रेस के जिलाध्यक्ष यशपाल गहलोत, बाबूजयशंकर जोशी, डॉ तनवीर मालावत,श्याम तंवर, गुलाब गहलोत,सलीम भाटी, गोपाल पुरोहित, सुषमा बारूपाल,संजय आचार्य, परमानंद गहलोत, गुलाम मुस्तफा, सुनीता गौड़, सांगीलाल वर्मा,राजकुमार किराडू, श्रीलाल व्यास, नितिन वत्सस सहित अनेक नेताओं ने मोरदिया का स्वागत कर पार्टी के उम्मीदवारों के संबंध में मंथन किया।
गुटबंदी आई चौड़े: मोरदिया से चर्चा करने आये लगभग सभी संभावित प्रत्याशियों ने जीत के सूत्र बताने की बजाय टिकट के लिये चर्चा में आ रहे नामों को लेकर एक दूसरे की टांग खींची। यहां तक की पार्टी के आला पदाधिकारियों ने वरिष्ठ नेताओं और गत विधानसभा के प्रत्याशियों की टिकट काटने की बात तक कह डाली। इतना ही नहीं कई नेताओं ने तो यहां तक कह डाला की पार्टी बाहुल्य जाति व सही व्यक्ति को टिकट न देने का खामियाजा भुगत चुकी है और यही रवैया रहा तो आगे भी भुगतेगी।

Tag

Share this news

Post your comment